Best Shayari On Mother’s Day In Hindi

Mother’s Day is here and it is celebrated to appreciate the selfless love of a mother. If you haven’t celebrated mother’s day throughout your life then make sure you do it this year and bring a wide smile to your mother’s face.

We are celebrating the divine occasion and for that, we have gathered some of the best Shayari on mothers day in Hindi.

Hind is the mother tongue of most of us and so it will be more cherishable to have a Shayari for mother’s day in Hindi. You will see so many posts dedicated to mothers on your social media handles with heart-warming captions. And you should also follow the league but instead of picking a caption in English, you should pick mothers day shayari in Hindi.

Best Shayari On Mothers Day In Hindi

Some Heart-warming Shayaris in Hindi For Mother’s Day

Heart-warming Shayaris in Hindi For Mother’s Day

मेरी माँ की मोहब्बत किसी जादू से काम नहीं
वो अपनी पलकें भिगो के, मेरी पलकें सूखा देती है
- आदि

माँ मेरी मेरे मन का मंदिर है के पूजा उसी की करता हूँ
कोई कहे अगर मुझसे की भगवन आये हैं, उन्हें कहो की पहले आके माँ का नमन करें
- आदि

गिरके उठना मेरा मेरी माँ की ममता
मेरे ज़ख़्मों को वो सेहला के वो अपना बना लेती है
- आदि

हो एक शब्द या एक लाख..
या लिखदूं तुझपे ग्रन्थ भले..
तेरी पूर्ण व्याखया नामुमकिन माँ..
तेरी कोख में कृष्ण और राम प्ले |
- आदि

आज के इस पावन दिन पे तुझे ये कहना चाहता हूँ,
हर जनम में बस तेरी ही कोख में पलना चाहता हूँ।
- आदि

कोई तूफानों से कहदे के जीत की उम्मीद छोड़ दें
मेरी माँ का आशीर्वाद कभी हार नहीं सकता।
- आदि

एक दिन मुस्कुरा के मेरी चिंता दूर की थी माँ ने
आज तक मेरे में खुशियों का भंडार है
- आदि

मिले जो माँ का प्यार तुम्हे
समझो मिला है जीवन का सार तुम्हे
जो बिन ममता के पालते हैं दुनिया में सुन आदि
उनसे पूछ के देख, चाहिए जन्नत या माँ उन्हें
- आदि

वो डांटती है तो प्यार है
वो रोके तुझे तो प्यार है
वो चुलहे के आगे तपती है
उसकी बेरुखी में प्यार है
उसके गुस्से को पलट के देख
सूरज पे धरती के समान
गुस्से पे उसका प्यार है
उसकी पायलों की झंकार में
सरे संगीत का सार है
उसके हाथों की सूखी रोटी
जिसके आगे पकवान सब बेकार हैं
जिसे पाने को धरती पे
प्रभु ने लिए अवतार है
वो एक पावन सुख है जो
वो ही तो माँ का प्यार है
- आदि

Shayari On Mother’s Day In Hindi From Famous Indian Poets

Shayari On Mother’s Day In Hindi From Famous Indian Poets

India has been a land of creative and legendary poets. And they have created some gems from their pen that will stay alive till the earth is breathing. And if you go deep in the life of any poet, you will surely find a Shayari for Mother. Where some describe their love for their mothers in just two or four lines, some love to write a full poem with all their heart. Below are some mother’s day Shayari in Hindi with the name of its creator.

कल अपने-आप को देखा था माँ की आँखों में
ये आईना हमें बूढ़ा नहीं बताता है
-मुनव्वर राना

वो लम्हा जब मेरे बच्चे ने माँ पुकारा मुझे
मैं एक शाख़ से कितना घना दरख़्त हुई
-हुमैरा रहमान

मुझे मालूम है मां की दुआएं साथ चलती हैं,
सफ़र की मुश्किलों को हाथ मलते मैंने देखा है
-आलोक श्रीवास्तव

चलती फिरती हुई आँखों से अज़ाँ देखी है
मैंने जन्नत तो नहीं देखी है माँ देखी है
-मुनव्वर राना

एक मुद्दत से मेरी माँ नहीं सोई 'ताबिश'
मैंने इक बार कहा था मुझे डर लगता है
-अब्बास ताबिश

मैं रोया परदेस में भीगा माँ का प्यार
दुख ने दुख से बातें की बिन चिट्ठी बिन तार
-निदा फ़ाज़ली

घर में झीने रिश्ते मैंने लाखों बार उधड़ते देखे,
चुपके चुपके कर देती है जाने कब तुरपाई अम्मा
-आलोक श्रीवास्तव

भारी बोझ पहाड़ सा कुछ हल्का हो जाए
जब मेरी चिंता बढ़े माँ सपने में आए
-अख़्तर नज़्म

माँ ने सर पर हाथ रखा तब चैन मिला
बीमारी में एक मसीहा भी रहता है घर की चार दीवारी में
- राहत इन्दोरी

Hindi Poems To Celebrate Mother’s Love On Mother’s Day

Hindi Poems To Celebrate Mother’s Love On Mother’s Day

After the short but impactful and lovely mother’s day Shayari in Hindi, here are two long poems which define the sacrifice and love of a mother in the best possible way.

माँ धरती है, माँ ही नभ है
माँ ही रब है, माँ तो सब है
कामों की गठरी कांधे पर लादे
कभी नहीं उफ्फ कहती है
केवल जन्म नहीं देती है
वह जीवन भी देती है
माँ गंगा है, माँ धाय है
माँ गाय है
माँ बच्चों की चिंताओं का
एकमात्र उपाय है
माँ की ममता में देखो
कितना दम है
दुनिया भर की हर उमंग
उसके आगे कम है
ममता की राहों में उसको
कोई बांधा झुका नहीं सकती है
संतान ममता की कीमत
चुका नहीं सकती है
माँ की सेवा कर लोगे
जो तुम सुबह और शाम
घर बैठे ही मिल जाएंगे
तुमको चारों धाम
- पीयूष दत्त मेहता

उदास होता हूँ तो हँसा देती है माँ
नींद नहीं आती है तो सुला देती है माँ
मकान को घर बना देती है माँ
खुद भूखी रह कर भी मेरा पेट भरती है माँ
जमीं से शिखर तक साथ देती है माँ
जन्म से आंखरी सांस तक साथ देती है माँ
जिंदगी में मुश्किले चाहे कितनी भी हो
हँस के गुजार लेती है माँ
परिवार छोटा हो या बड़ा सम्भाल लेती है माँ
मेरी आँखों में छुपी हर एक ख्वाइस को पहचान लेती है माँ
मेरे हर दर्द की दवा करती है माँ
मेरी हर खता को माफ़ कर देती है माँ
रिश्तों को जोड़ती है माँ
बिना किसी स्वार्थ के प्यार देती है माँ
परिवार खुश होता है तब खुश होती है माँ
तू चाहे सन्तान ना हो उसकी फिर भी दुलार देती है माँ
– नरेंद्र वर्मा

Mother's day 2021 will be celebrated on the 9th of May and you should not miss any chance to bring a smile to your mother’s face. Take flowers, gifts, cupcakes, or whatever you want, hug her tight, and whisper a mother’s day Hindi Shayari in her ear.

जुड़े रहिये हमारे साथ और पढ़ते रहिये भिन्न-भिन्न त्योहारों से जुडी बातें!

Popular Post
Blog category
Tags In Tags
Recent Post
TOP SELLING GIFTS

Copyright 2022 flowerAura. All Right Reserved