Rakhi 2021 Date and Timing in Hindi

रक्षा बंधन का महत्व

भारत विश्व का एक मात्र ऐसा देश है जिसमे हर रिश्ते को निभाने के लिए एक त्यौहार मनाया जाता है| भारत की भिनत्ता केवल उसके अलग-अलग धर्म के लोगो, उनके खान-पान, उनकी बोली से नहीं है, किंतु भारत में बनाए जाने त्योहारों से भी हैं| तो आइये जानते हैं एक ऐसे ही त्यौहार रक्षा बंधन के बारे में|

२०२१ रक्षा बंधन की डेट क्या है ?

रक्षा बंधन का त्यौहार भाई बहन के रिश्ते की शीतलता को कायम रखता हैं एवं उनके रिश्ते को मजबूत बनाता है| प्रति वर्ष यह त्यौहार श्रावण मास के आखिरी दिन को मनाया जाता हैं| हर साल रक्षा बंधन की डेट विभिन्न होती है । इस साल राखी २०२1 डेट है: २२ अगस्त । इस दिन सभी भाई-बहन एक जगह इकट्ठे होकर- स्नेह एवं उल्लास से राखी बनाते हैं| बहने अपने भाइयों की कलाई सजाने के लिए बहुत ही सुन्दर एवं आकर्षक राखियां खरीदती हैं| बहने अपने भाइयों के लिए राखी ऑनलाइन खरीदना पसंद करती है। काफी सारे ऑनलाइन गिफ्ट पोर्टल सुंदर राखियां की ऑनलाइन डिलीवरी देते है। एवं इस दिन अपने भाई की कलाई पर बांधती हैं| भाई इस राखी के सूत्र के बदले में अपनी बहन की रक्षा का प्रण लेते हैं एवं शगुन स्वरूप अपनी बहनों को भिन्न-भिन्न प्रकार के तोहफे और उपहार देते हैं|

२०२० रक्षा बंधन की डेट

राखी का उल्लेख हमारी पौराणिक कथाओं में भी हैं

रक्षा बंधन का त्यौहार, हिन्दू समाज में काफी महत्व रखता हैं| ऐसी बहुत सी ऐतिहासिक घटनाएँ हैं जो की राखी के सूत्र की विशेषता दर्शाती हैं एवं इस सूत्र को पवित्र मानती हैं| इस त्यौहार की विशेषता यह हैं की इतिहास में इस त्यौहार को सिर्फ भाई-बहन नहीं, किंतु पति-पत्नी, भगवान एवं आम आदमी भी मनाया करते थे| कुछ पौराणिक कथाओं में इस बात का उल्लेख भरपूर रूप से हैं राखी को रक्षा का सूत्र मन जाता हैं| बहुत सी रानीओ ने राजाओं की कलाई पर राखी बाँधकर उनसे अपनी रक्षा का वादा लिया हैं| यही नहीं राखी का सूत्र खून के रिश्तों से बढ़कर होता हैं| महाभारत में जब श्री कृष्ण की एक ऊँगली कटने पर द्रौपदी अपने पल्लू को चीरकर श्री कृष्ण की ऊँगली पर बांधती हैं, तब श्री कृष्ण इस बात का ऋण चुकाने के लिए द्रौपदी की रक्षा का वादा करते हैं| यह घटना सबूत हैं की रक्षा का सूत्र सिर्फ खून के रिश्तों से ही नहीं बंधा होता, किंतु वह हर उस मनुष्य से बंधा होता हैं जो हमारी रक्षा करता हैं| ऐसे ही और भी बहुत से वाक्य हैं जिनके बारे में विस्तार रूप से आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके पढ़ सकते हैं

राखी २०२1 शुभ मुहूर्त:

राखी मुहूर्त २०२1 जानां काफ़ी महतवपूर्ण है क्यूंकि जब बहन अपने भाई की कलाई पे राखी शुभ मुहरत को ध्यान में रखते हुए बांधती है तोह उसका प्रभाव उनके रिश्ते और ज़िन्दगी पे भी अवश्य ही शुभ होता है ।

  • राखी बांधने का २२ ऑगस्ट को शुभ मुहूर्त और समय– सुबह 6:07 बजे से शाम 5:59 बजे तक
  • दोपहर का मुहूर्त और समय – दोपहर 1:48 से शाम 4:22 तक
  • पूर्णिमा तिथि समय- शाम 6:55 बजे से 9:10 बजे तक
  • कुल अवधि 11 घंटे 18 मिनट
राखी शुभ मुहूर्त: रक्षा बंधन २०२० डेट अवं समय

तो अब जब आप जानते हैं कि रक्षाबंधन कब है 2021 और शुभ मुहूर्त भी, तो जाइये और अपने भाई के लिए एक शानदार राखी आर्डर करें ऑनलाइन और भेजो अपने भाई के घर तक| बहुत सी ऑनलाइन वेब्सीटेस आपको मौका देती हैं की आप भेज सके पीकॉक राखी, रुद्राक्ष राखी, एवं और भी बहुत सी राखियां अपने भाई के घर तक जो इस वर्ष आपसे मिलने नहीं आ पाया|

शुभ राखी|

Popular Post
Blog category
Tags In Tags
Recent Post
TOP SELLING GIFTS

Copyright 2022 flowerAura. All Right Reserved